जच्चा गीत (बच्चे के जन्म का गीत)

मेरी मित्र के दादी बनने पर लिखा गया गीत:

लाल के हुए मेरे लाला, 
पिया जी तुम्हें दादा कहेगा ।
लागे है कृष्ण गोपाला, 
पिया जी तुम्हें दादा कहेगा ।।

भोर में सूरज सा चमकेगा, 
दिन में उजाला करेगा...
पिया जी तुम्हें दादा कहेगा ।

वो गुलशन का फूल होगा, 
खिल के गुलाब सा महकेगा...
पिया जी तुम्हें दादा कहेगा ।

अंबर जैसा ऊँचा होगा, 
चंदा सा चमकेगा....
पिया जी तुम्हें दादा कहेगा ।

अपने घर का राजा होगा, 
शीश मुकुट दमकेगा....
पिया जी तुम्हें दादा कहेगा ।

कान्हा जैसा प्यारा होगा, 
राम सा राजा बनेगा....
पिया जी तुम्हें दादा कहेगा ।

**जिज्ञासा सिंह**

25 टिप्‍पणियां:

  1. वाह जी ,
    दादी ने गाया गीत
    नाच रहे उनके मीत । 😄😄😄😄😄

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. बहुत आभार आपका दीदी, आपको पसंद आया। मेरा अहोभाग्य, आपको मेरा सादर अभिवादन।

      हटाएं
  2. जी नमस्ते ,
    आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल शुक्रवार(०७-०१ -२०२२ ) को
    'कह तो दे कि वो सुन रहा है'(चर्चा अंक-४३०२)
    पर भी होगी।
    आप भी सादर आमंत्रित है।
    सादर

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. चर्चा मंच में मेरे इस लोकगीत की चर्चा, मेरा अहोभाग्य प्रिय अनिता जी, मेरी हार्दिक शुभकामनाएँ ।

      हटाएं
  3. वाह ! दादा-दादी को कान्हा जी जैसा पोता मुबारक हो !

    जवाब देंहटाएं
  4. आपकी सराहना मेरे गीतों के सृजन में संजीवनी बूटी का काम करती है, जल्दी ही कुछ फिर लिख पाऊँगी, आपका बहुत आभार । मेरा सादर अभिवादन स्वीकार करें ।

    जवाब देंहटाएं
  5. वाह जिज्ञासा जी वास्तव में आज के समय में ये लोकगीत कहीं पीछे छूटते जा रहें हैं।इनको संरक्षित करने का आपका प्रयास सराहनीय है।

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. बहुत बहुत आभार आपका आदरणीय अभिलाषा जी । यही सोचकर इन्हें सृजित करने की कोशिश कर रही हूं, आपकी प्रशंसा की आभारी हूं

      हटाएं
  6. उत्तर
    1. बहुत-बहुत आभार अनुराधा जी, आपकी प्रशंसा ने गीत सृजन को सार्थक कर दिया ।

      हटाएं
  7. हर बोल से किलकता हुआ अति सुन्दर गीत । मन पुलकित हुआ ।

    जवाब देंहटाएं
  8. बहुत-बहुत आभार अमृता जी, मेरा गीत गा उठा आपकी प्रशंसा पाकर ।

    जवाब देंहटाएं
  9. 😀😀😀👌👌 बहुत ही प्यारा गीत प्रिय जिज्ञासा। दादा तो पुलक जाएं मस्तानी दादी के मुखारविंद से ये मधुर गीत सुनकर। अपनी तरह के बहुत प्यारे गीत के लिए ढेरों शुभकामनाएं और बधाई आपको।

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. लाल के हुई तेरे लाली सखी जी तुम्हे दादी कहेगी,😀😀
      बहुत बहुत आभार प्रिय सखी जी💐💐🥳🥳

      हटाएं
    2. 😀😀😀🙏🙏😀🎉🎉🎊🌹🌷🌷

      हटाएं
  10. बहुत ही प्यारा गीत!
    मैम क्या आप मुझे इसकी ऑडियो क्लिप भेज सकती हैं! 🙏

    जवाब देंहटाएं
  11. आभार प्रिय मनीषा ☺️☺️
    बिलकुल भेजती हूं, कहां भेजूं ??

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. सम्पर्क फॉर्म में परी डीटेल डाल दी है!
      अगर नहीं पहुचा हो तो मैं दुबारा भेज दूं!

      हटाएं
  12. देख लिया है, भेजूँगी 💐💐👍

    जवाब देंहटाएं
  13. बहुत आभार मनोज जी, कविताओं के ब्लॉग पर आपका हार्दिक स्वागत है 👏💐

    जवाब देंहटाएं
  14. अइयइयो...मजा आ गया जिज्ञासा जी, आप इन्‍हें आवाज़ भी देती चलें तो सोने पै सुहागा रहेगा।

    जवाब देंहटाएं
  15. क्षमासहित.. पर आपको ईमेल कर दिया, आनंद लें सखी..आपके आह्वान पे ध्यान दूंगी ये मेरे प्रिय विषय में से एक है😀😀👏👏

    जवाब देंहटाएं
  16. कान्हा की प्रीत ... हर बालक कान्हा सा हो ... बहुत बहुत बधाई ...
    अच्छा गीत ...

    जवाब देंहटाएं
  17. बहुत बहुत आभार आपका 👏💐

    जवाब देंहटाएं